fbpx

Diary Cutting No 01……

डायरी की बैकस्पेस…..मिश्रा राहुल


©2014-Misra Raahul

Share

You may also like...

4 Responses

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति…!

    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज शुक्रवार (17-01-2014) को "सपनों को मत रोको" (चर्चा मंच-1495) में "मयंक का कोना" पर भी है!

    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।

    शुभकामनाओं के साथ।
    सादर…!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

  2. बढ़िया प्रस्तुति-
    बधाई स्वीकारें आदरणीय-

  3. धन्यवाद आपका उत्साहवर्धन के लिए।
    – स्वागतम खामोशियाँ में।

  4. बैकस्पेस की याद सच में नहीं रहती … पर बीते पल जरूर याद रह जाते हैं …
    अच्छा लिखा है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *