fbpx

Flavour Change


रिश्ते टूट जाए …. बिखर जाने दो….
नियम बचे खड़े …. ताज पाने दो…. !!!

लड़ रहे जो …. त्याग करो उन्हे
नए लोग भी …. आज माने दो…. !!!

चीख रहे नजूमी …. जायचा दूर करो ….
हथेली लकीरों भरी …. राज़ पाने दो…. !!!


©khamoshiyaan-2014
Share

You may also like...

2 Responses

  1. चीख रहे नजूमी …. जायचा दूर करो ….
    हथेली लकीरों भरी …. राज़ पाने दो…. !!??

    भउत ही कम शब्दों में गहरी बात कही पर ये समझ नही आया इसे समझाइये

  2. Misra Raahul says:

    अनुराग भैया आपका काम आसान कर दिये रहे हैं
    नजूमी = ज्योतिष
    जायचा = जनम कुंडली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *